Browsing tag

Allah

निःसंदेह अल्लाह विनम्र व मेहरबान है और विनम्रता व मेहरबानी को पसन्द करता है।

“पैग़म्बर मुहम्मद (ﷺ) ने फरमाया कि: “निःसंदेह अल्लाह विनम्र व मेहरबान है और (अपने बन्दों में) विनम्रता व मेहरबानी को पसन्द करता है।” [ मुस्लिम ] islamshantihai.com” #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com

जो इंसानो का कृतज्ञ नहीं होता वह ईश्वर (अल्लाह) का कृतज्ञ नहीं होता

“पैग़म्बर मुहम्मद (ﷺ) ने फरमाया कि, “जो इंसानो का कृतज्ञ नहीं होता वह ईश्वर (अल्लाह) का कृतज्ञ नहीं होता।”” (अहमद, तिरमिज़ी) islamshantihai.com #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com

धार्मिक विश्वास यह है कि इस सृष्टि का एक जन्मदाता एवं पालनहार है

“धार्मिक विश्वास यह है कि इस सृष्टि का एक जन्मदाता एवं पालनहार है और यह विश्वास है कि ईश्वर मानव जीवन के पथ प्रदर्शन हेतु प्रत्येक जाति एवं देश में अपना सन्देष्टा भेजता रहा है। उन्ही के बताए हुए रास्ते पर चलकर मानव सफल जीवन व्यतीत कर सकता है।” IslamShanti Hai.com #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com

अगर ईश्वर(अल्लाह) तुम्हारे ज़रिये एक व्यक्ति को मार्गदर्शन दे-दे तो तुम्हारे लिये यह

“पैग़म्बर मुहम्मद (ﷺ) ने फ़रमाया: “अगर ईश्वर(अल्लाह) तुम्हारे ज़रिये एक व्यक्ति को मार्गदर्शन दे-दे तो तुम्हारे लिये यह लाल रंग के ऊंटो से बेहतर है। “ [बुख़ारी, मुस्लिम] IslamShantiHai.com” #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com

अल्लाह ही है जिसने तुम्हें पैदा किया, फिर तुम्हें रोज़ी दी, फिर वह तुम्हें मौत देता है

अल्लाह ही है जिसने तुम्हें पैदा किया, फिर तुम्हें रोज़ी दी, फिर वह तुम्हें मौत देता है, फिर तुम्हें जिंदा करेगा। क्या तुम्हारे ठहराए हुए शरीकों में भी कोई है, जो इन कामों में से कुछ कर सके? पाक़ और बरतर है वह (अल्लाह) उससे, जो शरीक वे ठहराते हैं।’ AL-QURAN 30:40   #IslamicQuotes by […]

अल्लाह वही है जिसने तुमको पैदा किया एक जान (आदम) से और

“वही (अल्लाह) है जिसने तुमको पैदा किया एक जान (आदम) से और उसी से बनाया उसका जोड़ा ताकि तुम उसके पास सुकून हासिल करो।” AL-QURAN 7:189 #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com

रहमान (अल्लाह) की इबादत करो, सलाम को आम करो और खाना खिलाओ, जन्नतों में दाखिल हो जाओगे। [मुसनद अहमद सहीह]

“सैय्यदना अब्दुल्लाह बिन उमरो रज़ि अल्लाह अन्हु से मरवी है कि नबी करीम सल्लल्लाहु अलैहिवसल्लम ने फरमाया: “रहमान (अल्लाह) की इबादत करो, सलाम को आम करो और खाना खिलाओ, जन्नतों में दाखिल हो जाओगे।” [मुसनद अहमद सहीह] #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com

अल्लाह ने तुम्हारे लिए हराम कर दिया (अवैध ठहराया) कि तुम माँ का दिल दुखाओ, लड़कियों कि हत्या करो, कन्जूसी तथा फ़क़ीरी ग्रहण करो। [हदीस: बुख़ारी, मुस्लिम]

पैग़म्बर मुहम्मद (ﷺ) ने फरमाया “अल्लाह ने तुम्हारे लिए हराम कर दिया (अवैध ठहराया) कि तुम माँ का दिल दुखाओ, लड़कियों कि हत्या करो, कन्जूसी तथा फ़क़ीरी ग्रहण करो।” [बुख़ारी, मुस्लिम] | islamshantihai.com #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com

Jab tum koi faisla lo to Allah par bharosa rakho

फिर जब तुम कोई फैसला लो तो अल्लाह पर भरोसा रखो। निस्संदेह अल्लाह को वे लोग प्रिय है जो उसपर भरोसा करते है। (पवित्र कुरआन 3:159) #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com