Browsing tag

सुबह

जब आप करी (सालन) पकाते हैं, उसमें थोड़ा पानी ज्यादा डालें ताकि आपके पडोसी को भी बाट सके। [हजरत मुहम्मद ﷺ]

अपने पड़ोसियों का भी ख्याल रखें :   “जब आप करी (सालन) पकाते हैं, उसमें थोड़ा पानी ज्यादा डालें ताकि आपके पडोसी को भी बाट सके।” (हजरत मुहम्मद ﷺ) (सहीह मुस्लिम) Ref: Wisdom Media School | #IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com

हर सुबह फुसफुसाती है: “हे मनुष्य! मैं एक नया दिन हूँ, तुम्हारे कर्मों का साक्षी। मेरा फायदा उठाओ, चला गया तो मैं वापस नहीं आता।” [हसनुल बसरी]

हर सुबह फुसफुसाती है :   “हे मनुष्य! मैं एक नया दिन हूँ, तुम्हारे कर्मों का साक्षी। मेरा फायदा उठाओ, चला गया तो मैं वापस नहीं आता।” (हसनुल बसरी) Ref: Wisdom Media School | #IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com