Browsing tag

अवैध रिश्ते

सिनेमा और धरावाहिक के मुताबिक ज़िन्दगी को मोडना मूर्खता है। सिनेमा की नाट्य नहीं बल्कि कच्चा तजुर्बा है ज़िन्दगी।

कहानी नहीं है ज़िन्दगी :  “सिनेमा और धरावाहिक के मुताबिक ज़िन्दगी को मोडना मूर्खता है। सिनेमा की नाट्य नहीं बल्कि कच्चा तजुर्बा है ज़िन्दगी।” Ref: Wisdom Media School | #IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com

अवैध/गैरकानूनी रिश्ते अनैतिक है, यह दो व्यक्तियों के पाप से बढकर, अनेक लोगों के पारिवारिक संबंध को नष्ट-भ्रष्ट करनेवाली सामाजिक आपदा है। [Wisdom Media School]

अवैध रिश्तों में खतरा : “अवैध/गैरकानूनी रिश्ते अनैतिक है। यह दो व्यक्तियों के पाप से बढकर, अनेक लोगों के पारिवारिक संबंध को नष्ट-भ्रष्ट करनेवाली सामाजिक आपदा है।” Ref: Wisdom Media School | #IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com